You are here
Home > राज्य और शहर > सीमा शर्मा को विभाग का सर्वोच्च सम्मान ‘’प्राइड ऑफ प्रोसिक्यूशन’’ मिला

सीमा शर्मा को विभाग का सर्वोच्च सम्मान ‘’प्राइड ऑफ प्रोसिक्यूशन’’ मिला

#Pride of Prosecution

नीमच। अभियोजन मीडिया सेल प्रभारी एडीपीओ विपिन मण्डलोई ने बताया कि सीमा शर्मा सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी, रतलाम को अपने विभाग के अधिकारियों की दक्षता संवर्धन हेतु विधि पुस्तक लेख करने पर दिनांक 22.05.2020 को मध्यप्रदेश लोक अभियोजन विभाग का सर्वोच्च सम्मान ‘‘प्राइड ऑफ प्रोसिक्यूशन‘‘ प्रदान किया गया है।

उल्लेखनीय है कि सीमा शर्मा रतलाम में सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी के पद पर पदस्थ होकर वर्तमान में विशेष लोक अभियोजक (पॉक्सो एक्ट) का दायित्व निर्वहन कर रही है तथा विभाग की उज्जैन संभाग की जनसंपर्क अधिकारी भी है। उनके द्वारा वर्ष 2019 में अभियोजन अधिकारियों की दक्षता संवर्धन के लिए ‘‘पुलिस अनुसंधान एवं अभियोजन‘‘ विषय पर विधि पुस्तक लेख की गयी थी जो जुलाई 2019 में प्रकाशित होकर समस्त अधिकारियों को अध्ययन हेतु प्रदान की गयी थी। इस पुस्तक के लेखन एवं प्रकाशन के लिए संचालक, लोक अभियोजन श्री पुरूषोत्तम शर्मा के द्वारा सीमा शर्मा को विभाग का सर्वोच्च सम्मान ‘‘प्राइड ऑफ प्रोसिक्यूशन‘‘ प्रदान किया गया है।

उल्लेखनीय है कि सीमा शर्मा विभाग की प्राधिकृत मास्टर ट्रेनर भी है। उनके द्वारा वर्ष 2018 में विभाग के नवनियुक्त अभियोजन अधिकारियों को प्रशिक्षण प्रदान किया गया था इसके लिए भी उनको जुन 2018 में ‘‘प्राइड ऑफ प्रोसिक्यूशन‘‘ सम्मान प्रदान किया गया था। इसके अतिरिक्त उनको अभियोजन संचालन एवं मास्टर ट्रेनर के रूप में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए मार्च 2019 में माननीय गृहमंत्री महोदय, म.प्र. शासन के द्वारा भी सम्मानित किया गया था। एडीपीओ सीमा शर्मा द्वारा प्रशिक्षण, पुस्तक लेखन, अभियोजन संचालन एवं समस्त शासकीय दायित्वों का निर्वहन पूर्ण निष्ठा, लगन, समर्पण एवं दक्षता से किया जाता हैं। यह सम्मान विधि विषय पर पुस्तक के लेखन और प्रकाशन तथा शैक्षणिक एवं बौद्धिक क्षैत्र में विशेष उपलब्धि पर प्रदान किया जाता है।

सुश्री सीमा शर्मा की इस उपलब्धि पर विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने हर्ष व्यक्त कर बधाई दी है।

Sharing is caring!

Similar Articles

Leave a Reply

Top