You are here
Home > राजस्थान > परशुराम जयंति महोत्सवः निम्बाहेड़ा में निकला विशाल मशाल जुलूस

परशुराम जयंति महोत्सवः निम्बाहेड़ा में निकला विशाल मशाल जुलूस

मशाल जुलूस का पुष्प वर्षा से किया स्वागत

निंबाहेड़ा । संगठितब्रह्म निंबाहेड़ा के तत्वावधान में परशुराम जयंती महोत्सव के तहत शनिवार को मशाल जुलूस निकाला गया। जिसमें 2100 मशाल लिए समाज के लोग चल रहे थे। महिलाएं मंगल गीत गा रहीं थीं। परशुराम के जयकारे गूंज रहे थे। जुलूस डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी स्टेडियम से शाम 7 बजे प्रारंभ होकर परशुराम सर्किल पहुंचा। पार्षद नितिन चतुर्वेदी ने बताया कि संरक्षक मंडल के राधेश्याम जोशी, पं. राधेश्याम सुखवाल, प्रबोधचन्द्र शर्मा, सुरेंद्र ओझा, हरिशंकर शर्मा, श्यामसुन्दर शर्मा, जगदीश पुरोहित, वेदप्रकाश चतुर्वेदी, कैलाश भारद्वाज, मानमल शर्मा, आरसी पुरोहित, संरक्षक मंडल की स्नेहलता पुरोहित, गिरिजा शर्मा, निर्मला शर्मा, डॉ. चित्रलेखा शर्मा, महाआरती समिति की नीलू शर्मा, रेखारानी तिवारी, भावना कुर्किया, भगवती शर्मा, किरण शर्मा आदि शामिल थे। जुलूस का मार्ग पर जनप्रतिनिधियों विभिन्न संस्थाओं ने पुष्प वर्षा कर स्वागत किया गया। पंचोली चौराहे पर पूर्व विधायक अशोक नवलखा, नपा अध्यक्ष कन्हैयालाल पंचोली, उपाध्यक्ष पारस पारख आदि ने स्वागत किया। चित्तौड़ी गेट पर प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष उदयलाल आंजना, पुरुषोत्तम झंवर, परसराम कृपलानी, रवि सोनी ने स्वागत किया।

मशाल जुलूस का पुष्प वर्षा से किया स्वागत

सर्व ब्राह्मण समाज द्वारा शनिवार को श्री परशुराम जयंति के अवसर पर देर सांय निकाले गए मशाल जुलुस का मार्ग में विभिन्न समाज एवं स्वयंसेवी संस्थाओं ने पुष्प वर्षा कर स्वागत किया। इसी क्रम में डाक बंगला रोड़ पर प्रबुद्ध नागरिक सेवा संस्थान अध्यक्ष शारदा के नेतृत्व में संस्थान सदस्यों ने मशाल जुलूस का पुष्प वर्षा कर स्वागत किया। यहां स्वागत करने वालों में रमेश तोतला, भेरूलाल कलाल, बालकृष्ण शारदा, मिठ्ठूलाल पगारिया, पूरणमल कुमावत, प्रकाशचन्द्र चेलावत, रतनलाल पाटनी, विजयप्रकाश डांगी, डॉ. बिनके, डॉ. मनीष शर्मा, भगवती प्रसाद सोनी, के.डी.माथुर, कौशल काबरा, प्रकाश मंघनानी, सुरेश सिंह शक्तावत एवं खेमराज कोटवाल सहित कई नागरिक मौजूद रहे।

27 को भजन संध्या

प्रदेशमहामंत्री प्रवक्ता राकेश शास्त्री ने बताया कि 27 अप्रैल शाम सात बजे सांवलियाजी की देवकी सदन धर्मशाला में भजन संध्या होगी। मोर नृत्य, मटका नृत्य जैसी प्रस्तुतियां भी होगी। पंडित गौरवकृष्ण व्यास, कनकलता पाराशर, वंदना वृंद्वावन प्रस्तुतियां देंगी।

Sharing is caring!

Similar Articles

Leave a Reply

Top