You are here
Home > राज्य और शहर > मंदसौर कोरोनाः एक नया पॉजेटिव मिला, वृद्ध की रिपोर्ट का भी इंतजार

मंदसौर कोरोनाः एक नया पॉजेटिव मिला, वृद्ध की रिपोर्ट का भी इंतजार

मंदसौर, June15। मंदसौर जिले में कोरोनावायरस का थमता हुआ प्रसार एक बार फिर से पनपे लगा है। शनिवार को मंदसौर में कोरोना सेम्पल जांच की नई मशीन से बोहरा बाखल के एक बुजुर्ग की कोरोना सेम्पल टेस्टिंग संदिग्ध आई थी उसके बाद बुजुर्ग के सेम्पल को रतलाम लेब टेस्टिंग के लिए भेजा गया था जिसकी रिपोर्ट का इंतजार है, उसके बाद प्रशासन ने सुरक्षा की दृष्टि से बोहरा बाखल को कंटेनमेंट कर सराफा बाजार को सेनेटाईज करवाया था। इसके बाद रविवार की रात्रि को आई रिपोर्ट में एक नया पॉजेटिव सामने आया है। जिसके बाद मंदसौर जिले का कुल आंकड़ा 96 पर पहुंचा और एक्टिव केस अब 3 हो गए है।

पिपलिया सौलंकी का युवक निकला पॉजेटिव

सीएमएचओ डॉ.महेश मालवीय ने बताया कि रविवार की रात्रि को 99 कोरोना सेम्पल की रिपोर्ट प्राप्त हुई है। इसमें से 98 रिपोर्ट नेगेटिव है और एक नया पॉजेटिव निकला है। यह पॉजेटिव मल्हारगढ़ तहसील के ग्राम पिपलिया सौलंकी का युवक है जिसे कोविड हॉस्पिटल में शिफ्ट किया गया है।

अब मंदसौर जिले के कुल कोरोना का आंकड़ा 96 हो गया है जिसमें से 84 स्वस्थ होकर हॉस्पिटल से डिस्चार्ज हो चुके है, 9 की मौत हो चुकी है तथा अब 3 एक्टिव केस है।

प्रदेश के गांव आ रहे है कोरोनावायरस की चपेट में

मध्य प्रदेश में जानलेवा कोरोना वायरस अब तेजी से गांवों को भी अपनी चपेट में ले रहा है। चूंकि गांवों में स्वास्थ्य सेवाएं शहरों जितनी अच्छी नहीं है, ऐसे में शिवराज सरकार के लिए गांवों में इस पर काबू पाना बड़ी चुनौती बन रहा है। पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, मध्य प्रदेश में 462 गांवों में कोरोना के मरीज मिल चुके हैं। इनमें से 479 प्रवासी श्रमिक जबकि 472 अन्य ग्रामीण हैं। इनमें से 32 लोगों को जान जा चुकी है। रिपोर्ट के अनुसार 52 में से 50 जिलों के गांव महामारी से प्रभावित हैं। जिन दो जिलों के गांवों में यह बीमारी नहीं पहुंची है, उनमें होशंगाबाद और निवाड़ी हैं।

Sharing is caring!

Similar Articles

Leave a Reply

Top