You are here
Home > राज्य और शहर > भारी भरकम बिजली के बिलः 21 मई को मध्यप्रदेश के 5 हजार से ज्यादा उद्योगपति देंगे ऑनलाईन धरना

भारी भरकम बिजली के बिलः 21 मई को मध्यप्रदेश के 5 हजार से ज्यादा उद्योगपति देंगे ऑनलाईन धरना

इंदौर। एक तरफ केन्द्र सरकार 20 लाख करोड़ रुपए के राहत पैकेज के द्वारा देश के छोटे और मध्यम उद्यमियों को राहत देने का दावा कर रही है, वहीं मप्र के 5 हजार से ज्यादा छोटे और मध्यम उद्योगपति मप्र सरकार की उदासीनता से परेशान हैं। शिवराज सरकार से नाराज इन उद्योगपतियों ने 21 मई को ऑनलाइन धरना देने का निर्णय लिया है।

एसोसिएशन ऑफ इंडस्ट्रीज मप्र (एआईएमपी) के अध्यक्ष प्रमोद डफरिया के अनुसार एआईएमपी के बैनर तले इस धरने का आयोजन किया जा रहा है। एआईएमपी के अनुसार लॉकडाउन के चलते करीब दो माह से फैक्ट्रियां बंद हैं, कोई काम नहीं हो रहा है। इसके बावजूद लाखों रुपए के बिजली के बिल जारी कर दिए गए हैं। काम बंद होने से उद्यमियों की माली हालत पहले ही खराब है, इसके बावजूद उन्होंने मजदूरों और कर्मचारियों को वेतन दिया। कारखानों में पड़ा कच्चा माल भी काफी मात्रा में खराब हो गया है। यदि सरकार मदद नहीं करेगी तो उद्योग चलाना मुश्किल होगा।

एआईएमपी से जुड़े 5 हजार उद्योगपतियों ने बिजली बिल सहित अन्य मुद्दाें पर 21 मई को ऑनलाइन धरना देने का निर्णय लिया है। 1.30 घंटे के इस ऑनलाइन धरने में उद्योगपति हाथों में मांग लिखी तख्तियां लेकर शामिल होंगे। इसके लिए विशेष टेक्निकल टीम बनाई गई है।

Sharing is caring!

Similar Articles

Leave a Reply

Top