You are here
Home > राजस्थान > पौधारोपण से होगें हरित परिसर तैयारः सासंद जोशी की पहल से चलेगा जुलाई में अभियान

पौधारोपण से होगें हरित परिसर तैयारः सासंद जोशी की पहल से चलेगा जुलाई में अभियान

चित्तौड़गढ़। पौधारोपण अभियान से चित्तौडगढ़ संसदीय क्षेत्र में हरित परिसर तैयार किए जायेगें। यह बात चित्तौडगढ़ सेवा संस्थान के अध्यक्ष एवं सासंद सी.पी. जोशी ने अभियान कि रुपरेखा बताते हुए पत्रकार वार्ता में कही।

सासंद जोशी ने कहा कि हमें पर्यावरण के प्रति जागरूक रह कर अधिक से अधिक पौधारोपण करना चाहिए, इसलिए संस्थान ने इस वर्ष से पौधारोपण अभियान प्रारंभ करने का निर्णय लिया है। इस अभियान के प्रारंभ से ऐसे परिसर जिनके चारदीवारी बनी हुई है एवं पौधारोपण के पश्चात स्थानीय संस्था उसके पोषण की जिम्मेदारी ले रही है उन संस्थानों के परिसर में यह पौधारोपण किया जाएगा। जिले में कई मॉडल स्कूल, राजकीय विद्यालय, राजकीय भवनों के परिसर में यह अभियान चलने वाला है । इस अभियान के तहत नीम, करंज, शीशम, गुलमोहर, जामुन आदि छायादार पौधे लगाए जाएंगे।

संस्थान अपने स्तर पर एक बार उस पौधे को लगाकर वृक्ष मित्र अभियान के माध्यम से उस संस्थान में जुड़े हुए विद्यार्थी एवं कर्मचारी आदि को एक-एक पौधा गोद देगा ताकि वह उसका वर्ष पर्यंत रखरखाव कर सके। इस अभियान में 5 जुलाई को चित्तौड़गढ़ जिला मुख्यालय पर पौधारोपण से प्रारंभ होगा। उसके बाद 6 जुलाई को निंबाहेड़ा क्षेत्र में यह अभियान रहेगा। 7 जुलाई को भदेसर एवं बड़ी सादड़ी क्षेत्र में यह अभियान रहेगा, 8 जुलाई को कपासन विधानसभा के चयनित परिसरों में पौधे लगाए जाएंगे, 9 जुलाई को गंगरार पंचायत समिति क्षेत्र के परिसरों में एवं 10 जुलाई को बेगूं पंचायत समिति व बस्सी में पौधारोपण अभियान रहेगा। इसके बाद पूरे माह में यह अभियान चलायमान रहेगा।

संस्थान का प्रयास है कि पौधारोपण के माध्यम से प्रकृति को पुनः हरा भरा किया जाए और जो परिसर जन सेवा के कार्यों में काम आते हैं उनको हरा भरा किया जाए तथा सामाजिक एवं व्यावसायिक संगठनों से भी आग्रह किया कि वह भी ज्यादा से ज्यादा इस अभियान में रुचि लें। जिससे की प्रेरणा लेकर आमजन भी अपने निकटतम निकटतम स्थानों पर पौधे लगाए। इस अवसर पर संस्थान से जुड़े हुए भरत माहेश्वरी ने सभी का आभार प्रकट किया । पत्रकार वार्ता के दौरान मिठ्ठू लाल जाट, रघु शर्मा, श्रवण सिंह राव, हर्षवर्धन सिंह रूद, गौरव त्यागी, विनोद चपलोत, रवि विराणी, शांतिलाल भराडिया, गोविंद गोपाल ईनाणी, अर्जुन बैरवा आदि उपस्थित थे।

Sharing is caring!

Similar Articles

Leave a Reply

Top