You are here
Home > राज्य और शहर > डॉ. हिमांशु यजुर्वेदी की मेहनत रंग लाई, 99.74% कार्ड जनरेट कर मंदसौर ने प्रदेश में किया टॉप

डॉ. हिमांशु यजुर्वेदी की मेहनत रंग लाई, 99.74% कार्ड जनरेट कर मंदसौर ने प्रदेश में किया टॉप

दिव्यांगजन यूनिक डिसेबिलिटी आईडेंटिटी कार्ड बनाने में प्रदेश में अव्वल मंदसौर

मंदसौर। भारत सरकार के केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय की एक महत्वाकांक्षी योजना के क्रियान्वयन में मंदसौर जिले में टॉप किया है और वह भी तब जब मंदसौर में संबंधित विभाग मैं इस कार्य के लिए कोई समग्र अधिकारी ही नियुक्त नहीं हुआ, लेकिन जिला अस्पताल में पदस्थ डॉ हिमांशु यजुर्वेदी द्वारा किए गए परिश्रम से मंदसौर जिले में प्रदेश में इस योजना के क्रियान्वयन में टॉप किया है।

मिली जानकारी के अनुसार दिव्यांगजन की यूनिक डिसेबिलिटी आईडेंटिटी कार्ड का निर्माण का कार्य अभियान के तौर पर मंदसौर में किया गया। मंदसौर जिले में 13937 कार्ड जनरेट हुए, जो कुल आवेदन का 99.74% है।

इस पूरे अभियान में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. ए.के.मिश्रा, सिविल सर्जन डॉ. ए.के.गुलाटी का सफल नेतृत्व और डॉ. हिमांशु यजुर्वेदी की सतत मेहनत रही, वे लगातार पूरे जिले में उसके क्रियान्वयन के लिए कार्य करते रहे। इस कार्य में जिला दिव्यांग पुनर्वास केंद्र की टीम का अतुलनीय सहयोग रहा कार्यक्रम की सफलता पर सांसद सुधीर गुप्ता, विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया एवं समस्त अधिकारियों द्वारा बधाई प्रेषित की गई है।

Sharing is caring!

Similar Articles

Leave a Reply

Top