You are here
Home > राज्य और शहर > संकट के दौर में सामाजिक संगठनों, दानदाताओं और स्वयंसेवी संगठनों का समर्पित भाव अभिनंदनीय है-विधायक यशपालसिंह

संकट के दौर में सामाजिक संगठनों, दानदाताओं और स्वयंसेवी संगठनों का समर्पित भाव अभिनंदनीय है-विधायक यशपालसिंह

मंदसौर। शहर में हमेशा संकट के समय दानदाताओं ने, सामाजिक संगठनों ने और स्वयंसेवी संगठन ने शासन तथा जिला प्रशासन को भरपूर सहयोग दिया है तथा कंधे से कंधा मिलाकर समर्पित भाव से सेवा कार्य करते हुए जरूरतमंदों को खाद्यान्न सामग्री तथा भोजन सामग्री पहुंचाने का काम किया है। कोरोनावायरस नामक संक्रामक बीमारी से निपटने को लेकर तथा लॉकडाउन के दौरान ऐसी समस्त संस्थाएं जीवटता के साथ जुटी हुई हैं।

विधायक यशपालसिंह सिसोदिया ने उन तमाम संगठनों से यह प्रार्थना पूर्वक आग्रह करते हुए कहा है कि- वह जरूरतमंद लोगों तक जिस संवेदना और सहानुभूति के साथ भोजन सामग्री, खाद्यान्न सामग्री तथा भोजन पैकेट पहुंचा रहे हैं वे अब इस बात का जरूर ध्यान करें कि जरूरतमंदों के क्षेत्रों में एक ही दिन एक से अधिक बार एक ही क्षेत्र में अन्य संस्थाएं ऐसी सामग्रियां नहीं पहुंचाएं जो उन्हें एक-दो दिन में एक बार प्राप्त हो गई हैं।

मेरा यह सुझाव होगा उन तमाम संस्थाओं से कि 40 वार्डों को अलग-अलग झोन बनाकर अपनी-अपनी संस्थाएं सीमा रेखा में उन्हें बांध ले, तथा यह कर ले कि इस क्षेत्र में प्रतिदिन हम जरूरतमंदों तक पहुंचेंगे तथा आवश्यकता अनुसार उन्हें खाद्यान्न सामग्री, भोजन पैकेट या मास्क बांटने का काम करेंगे। इससे यह फायदा होगा कि एक परिवार की जरूरत यदि एक संस्था ने पूरी कर दी हैं, तो दूसरी संस्थाएं, दूसरा संगठन उसको दोबारा उसी दिन या 1 दिन छोड़कर के ही जाएगा, अभी कई शिकायतें आ रही है कि एक बस्ती क्षैत्र में एक से अधिक बार एक ही दिन में अलग-अलग संस्थाओं ने खाद्यान्न की सामग्री, भोजन के पैकेट अन्य आवश्यक सामग्री उनके पास पहुंच रही हैं, जबकि जिनको आज भी जरूरत है उनको सामग्री नहीं मिल पा रही हैं। इसलिए मेरा उन तमाम संगठनों से आग्रह होगा कि अपने अपने क्षेत्र चिन्हित कर लें, जिला प्रशासन, विशेष करके भारतीय रेडक्रॉस सोसाइटी और अन्य एजेंसी को दी जाने वाली सामग्री और क्षेत्र के विवरण से अवगत कराने की कृपा करें, ताकि डाटा जिला प्रशासन के पास मौजूद रहें।

मंदसौर शहर की जो तासीर है कि हम समय-समय पर प्राकृतिक आपदा का समय हो या अन्य कोई विपत्ति का समय हो मंदसौर शहर की तमाम संस्थाओं ने शासन को तथा प्रशासन को भरपूर सहयोग हमेशा दिया उसके बहुत-बहुत धन्यवाद, आभार, अभिनंदन।

Sharing is caring!

Similar Articles

Leave a Reply

Top