You are here
Home > राज्य और शहर > चैकिंग के दौरान पकड़ाये बाईक चोर, 2 गिरफ्तार, 3 मोटरसायकिल बरामद

चैकिंग के दौरान पकड़ाये बाईक चोर, 2 गिरफ्तार, 3 मोटरसायकिल बरामद

भानपुरा थाना प्रभारी कमलेश सिंगार एवं टीम को मिली सफलता

मंदसौर, 17 जून । मंदसौर जिला पुलिस अधीक्षक श्री सिध्दार्थ चौधरी के कुशल निर्देशन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गरोठ श्री महेन्द्र तारणेकर के मार्गदर्शन में तथा भानपुरा थाना प्रभारी कमलेश सिंगार के नेतृत्व में चैकिंग के दौरान भानपुरा पुलिस ने दो बाईक चोरों को पकड़ा, पुलिस ने इनके पास से 3 मोटर सायकिल बरामद की वहीं इनका एक ओर साथ मामले में फरार चल रहा है जिसकी तलाश जारी है।

मिली जानकारी के अनुसार आज 16 जून को भानपुरा पुलिस ने वाहन चैकिंग पाईंट लगा रखा था, इस दौरान झालावाड़ रोड़ औसारा की तरफ से 2 मोटर सायकिल चालक लैदी चौराहे तरफ आ रहे थे लेकिन पुलिस की चैकिंग को देखकर पलटकर तेज गति से मोटर सायकिल से भागने का प्रयास करने लगे जिन्होंने मौके पर उपस्थित पुलिस टीम ने पीछा कर घेराबंदी कर दबोचा लिया। दोनों की मोटरसायकिल बिना नंबर की थी। नाम पता पूछने पर एक ने अपना नाम धीरज पिता पूनमचंद जाति कंजर उम्र 40 वर्ष निवासी नारायणपुरा थाना पाटन जिला झालावाड़ बताया तथा दूसरे ने अपना नाम नरेश पिता बागमल जाति कंजर उम्र 20 वर्ष नि. जरेल थाना पाटन जिला झालावाड़ राजस्थान का होना बताया। दोनों के पास मोटरसायकिल संबंधी कागजात नहींथे तथा मोटरसायकिल चोरी की थी। पुलिस ने दोनों मोटरसायकिल जप्त कर दोनों आरोपियों को मौके से गिरफ्तार किया। पूछताछ के दौरान खुलासा हुआ कि इनका एक अन्य साथी राजाराम बांछड़ा निवासी नावली थाना गांधीसागर के साथ मिलकर भानपुरा के ग्राम संधारा में भी मोटर सायकिल चोरी की थी। आरोपियों की निशांदेही पर फरार आरोपी राजाराम के मकान से मोटरसायकिल बरामद की गई । इस प्रकार एक बिना नंबर की पेशन प्रो, बिना नंबर की होंडा शाईन, बिना नंकर की बजाज प्लेटिना इन दोनों आरोपियों से जप्त की गई ।

उक्त कार्यवाही में भानपुरा थाना प्रभारी निरीक्षक कमलेश सिंगार, उनि ममता अलावा, उनि लाखन सिंह, सउनि जी.एस. यादव, कार्य प्रआर सुशील यादव, आरक्षक रामकरण, आरक्षक प्रेमकुमार रावत, आरक्षक नितेश तिवारी, आरक्षक करण गुर्जर, आरक्षक राकेश, आरक्षक वकील दायमा का सराहनीय योगदान रहा ।

कंजरों ने मोटरसायकिल में कर रखा था अनौखी तकनीक का प्रयोग

भानपुरा थाना प्रभारी कमलेश सिंगार और उनकी टीम ने चैकिंग के दौरान दो कंजरों को चोरी की मोटरसायकिल के साथ धरदबोचा। जब पुलिस चैकिंग कर रही थी तो दो मोटरसायकिल चालक लेडी चौराहे की तरफ से आ रहे थे, जैसे ही उनकी नजर चैकिंग पर पड़ी तो मोटर सायकिल पलटाकर वह भागे । चैकिंग पर तैनात टीम ने भी उनका पीछा किया, लेडी चौराहे पर जाम जैसी स्थिति होने के कारण मोटरसायकिल सवार कंजर खेत में उतर गए जहां घेरकर दोनों को पकड़ लिया गया।

भानपुरा थाना प्रभारी कमलेश सिंगार ने बताया कि जब कंजरों द्वारा जप्त मोटर सायकिल का निरीक्षण किया गया तो पुलिस टीम आश्चर्य में पड़ गई । एक मोटर सायकिल की पेट्रोल टंकी आधी भरी हुई तो वहीं मोटरसायकिल के साईड में एक काला बैग भी लटका हुआ था। बैग खोलकर देखा तो उसमें एक छोटे गैस की भरी हुई टंकी थी और उस पर रेग्युलेटर भी था, मतलब मोटरसायकिल को पेट्रोल के साथ-साथ गैस की गाड़ी भी बना रखी थी और इसका बटन आगे तरफ ही लगा था। कंजर ने यह तकनीक इसलिए अपना रखी थी ताकि जब वह कोई वारदात करें और पुलिस पीछे लग जाए और रास्ते में पेट्रोल खत्म हो जाए तो चलती गाड़ी में यह बटन दबाकर मोटरसायकिल को गैस से संचालित कर लिया जाए ।

वहीं इनसे जो तीन मोटरसायकिल जप्त की गई है उनमें से 2 मोटरसायकिल इंदौर से चोरी की गई है और 1 मोटरसायकिल  ग्राम संधारा से 6 जून को चोरी की गई है।

Sharing is caring!

Similar Articles

Leave a Reply

Top