You are here
Home > राज्य और शहर > लट्ठ व सरियों से मारपीट करने पर 7 आरोपियों को 2-2 वर्ष का कारावास

लट्ठ व सरियों से मारपीट करने पर 7 आरोपियों को 2-2 वर्ष का कारावास

नीमच। श्री सदाशिव दांगौडे, न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी, नीमच द्वारा 7 आरोपीगण को लठ्ठ व सरियों से मारपीट करने के आरोप का दोषी पाकर कुल 2-2 वर्ष के सश्रम कारावास व कुल 5600 रूपयें जुर्माने से दण्डित किया।

अभियोजन मीडिया सेल को श्रीमति कीर्ति चाफेकर, एडीपीओ नें जानकारी देते हुए बताया कि घटना लगभग 4 वर्ष पूर्व दिनांक 17.05.16 को रात्रि 11:15 बजे अम्बेडकर कॉलोनी नीमच की है। घटना दिनांक को फरियादी देवेश परिजनों के साथ घर पर अपने भाई विक्की सागर का जन्मदिन मना रहा था व बच्चें रोड़ पर पटाखे फोड रहे थे, तभी पडोस में रहने वाला आरोपी अनिल, चिल्ला-चोट करता हुआ आया व बोला कि तुम बहुत पैसे वाले बनते हो, यहां पटाखे क्यों फोड रहें हो। विवाद होता देख अन्य आरोपीगण भी वहा आ गये और आते ही उन्होंने फरियादी तथा उसके परिजनों के साथ लठ्ठ व सरियें से मारपीट शुरू कर दी। घटना में आहतगण को गंभीर चोटे आई। सूचना मिलने पर पुलिस घटना स्थल पर पहुॅची उसके बाद फरियादी ने घटना की रिपोर्ट पुलिस थाना नीमच केंट पर की, जिस पर से अपराध क्रमांक 252/16, धारा 148, 323, 324/149, 294 भादवि के अंतर्गत पंजीबध्द कर विवचेना में लिया गया। पुलिस नीमच केंट द्वारा विवेचना पूर्ण कर चालान नीमच न्यायालय में प्रस्तुत किया गया।

श्रीमति कीर्ति चाफेकर, एडीपीओ द्वारा अभियोजन की ओर से न्यायालय में आहतगण व अन्य आवश्यक गवाहों के बयान कराकर अपराध को प्रमाणित कराकर अकाटय तर्क प्रस्तुत कर आरोपीगण को कठोर से कठोर दण्ड देने का निवेदन किया गया। अभियोजन के तर्को से सहमत होकर न्यायालय श्री सदाशिव दांगौडे, न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी, नीमच द्वारा आरोपीगण (1) सुनील पिता स्व. जगदीश, उम्र-48 वर्ष, (2) अनिल पिता स्व. जगदीश, उम्र-38 वर्ष, (3) दिनेश पिता स्व. जगदीश, उम्र-35 वर्ष, (4) नितिन पिता अनिल, उम्र-22, (5) श्यामाबाई पति अनिल, उम्र-38, (6) सेठाबाई उर्फ हेमलता पति सुनील, उम्र-42, तथा (7) शकुन्तलाबाई पति स्व. जगदीश, उम्र-68 सभी निवासीगण- अम्बेडकर कॉलोनी, जिला नीमच, सभी को धारा 148 भादवि में 6-6 माह के सश्रम कारावास व 100-100रू जुमाना, धारा 323/149 भादवि में 6-6 माह के सश्रम कारावास व 100-100रू. जुर्माना, धारा 324/149 भादवि में 1-1 वर्ष के सश्रम कारावास व 100-100रू. जुर्माना तथा धारा 294 भादवि में 1-1 माह के सश्रम कारावास व 100-100रू. जुर्माना इस प्रकार कुल 25-25 माह के सश्रम कारावास व कुल 5600रू जुर्मानें से दण्डित किया। न्यायालय में शासन की और से पैरवी श्रीमति कीर्ति चाफेकर, एडीपीओ द्वारा की।

Sharing is caring!

Similar Articles

Leave a Reply

Top